सौर मंडल के बारे में जाने।

क्या होता है सौरमंडल।

सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले विभिन्न ग्रह जैसे शुद्र ग्रह धूमकेतु ओला को तथा अन्य आकाशीय पिंडों के समूह को सौरमंडल कहा जाता है सौरमंडल में सूर्य का प्रभाव होता है क्योंकि सौरमंडल निकाय के द्रव्य का लगभग 99 पॉइंट 999 द्रव्य सूर्य में नहीं रहता है सौरमडल में समस्त ऊर्जा का स्रोत भी सूर्य ही है प्लेन एमंस सौर मंडल से बाहर बिल्कुल एक जैसे दिखने वाले जुड़वा पिंडों का एक समूह है सूर्य सौरमंडल का एक तरह से प्रधान होता है यह हमारी मंदाकिनी दुग्ध मेखला के केंद्रीय से लगभग 30,000 प्रकाश वर्ष की दूरी पर एक कोने में स्थित है यह दुग्ध मेघाला मंदाकिनी के केंद्रों के चारों ओर 250 किलोमीटर की गति से परिक्रमा कर रहा है इस का परिक्रमण काल केंद्र के चारों ओर एक बार घूमने में लगा समय 25 करोड़ 250 मिलियन वर्ष है जिससे सूर्य अपने अक्ष पर पूर्व से पश्चिम की ओर घूमता है इसका मध्य भाग 25 दिनों में बादुर विभाग 35 दिनों में 1 * करता है सूर्य एक गैस से गला है जिसमें हाइड्रोजन 7% परसेंट हिलियम साडे 2.6%अन्य तत्व ढाई परसेंट है सूर्य का केंद्रीय भाग किलोवाट कहलाता है तथा सूर्य के बाहरी सतह का तापमान 6000 डिग्री सेल्सियस होता है।

सौर मंडल के पिंड जैसे बुद्ध शुक्र शनि बृहस्पति मंगल अरुण वरुणादि।

बुध ग्रह

बुध ग्रह यह सूर्य का सबसे पास वाला ग्रह होता है जो सूर्य निकलने के 2 घंटा पहले दिखाई पड़ता है यह सबसे छोटा ग्रह है जिसके पास कोई उपग्रह नहीं है इसका सबसे विशिष्ट गुण है इसमें चुंबकीय क्षेत्र का होना यह सूर्य की परिक्रमा सबसे कम समय में पूरी करता है अर्थात यह सौरमंडल का सर्वाधिक कक्षा गति करने वाला ग्रह होता है यह ग्रह यहां दिन अति गर्म बा राते बर्फीली होती हैं इसका तापांतर सभी ग्रहों में सबसे अधिक होता है लगभग इसका तपांतर 600 डिग्री सेल्सियस होता है और इस ग्रह का रात का तापांतर -173 डिग्री सेल्सियस होता है और दिन में 427 डिग्री सेल्सियस होता है

शुक्र ग्रह

यह गिरा पृथ्वी का निकटतम एवं सबसे चमकीला ग्रह और सबसे गर्म ग्रह होता है यह गिरे सांझ का तारा या भोर का तारा कहा जाता है क्योंकि यह शाम में पश्चिम दिशा में तथा सुबह में पूरब दिशा में आकाश में दिखाई पड़ता है यह गिरे अन्य ग्रहों के विपरीत दक्षिण भारत का चक्रण करता है इसे पृथ्वी का भगिनी गिरे कहते हैं यह घनत्व आकार एवं ब्यास में पृथ्वी के समान है और इस ग्रह के पास कोई उपग्रह भी नहीं है ।

Leave a comment