Shravasti News 2023: के लास्ट तक रेलवे ट्रैक को जमीन पर लाने की तैयारी।

श्रावस्ती की रेलवे ट्रैक को जमीन पर लाने की तैयारी।

श्रावस्ती। खलीलाबाद बहराइच बाया श्रावस्ती रेल लाइन कब परियोजना के बाद फेज टू में बांसी से बहराइच तक 192 किलोमीटर रेल लाइन बिछाने का कार्य शुरू कर दिया गया है और यह कार्य 2023 के लास्ट तक जमीन पर लाने की तैयारी की जा रही है इसके लिए भूमि को भौतिक सत्यापन व अधिग्रहण का कार्य जल्द ही शुरू होगा केंद्र सरकार पहले ही इस परियोजना को पूरा करने के लिए लगभग 4900 करोड रुपए का बजट आवंटित कर चुकी है और लगभग रेलवे ट्रैक लाइन को बनने में खुशी कम अभी 1 वर्ष लगने की संभावना है जिससे हमारा रेलवे ट्रैक लाइन 2023 के लास्ट तक जमीन पर लाने की तैयारी की जा रही है इसके लिए भूमि को अधिक से अधिक वहां पर कठोर जगह होनी चाहिए जिससे हमारा रेलवे ट्रेन लाइन का जाने पर वहां कोई दिक्कत नहीं होगी यह घोषणा 2023 के लास्ट तक पूरा करने की संभावना दी जा रही है।

गोरखपुर बहराइच रेल मार्ग से संत कबीर नगर सिद्धार्थनगर बलरामपुर होते हुए।

गोरखपुर बहराइच रेल मार्ग से संत कबीर नगर सिद्धार्थनगर बलरामपुर होते हुए श्रावस्ती बा बहराइच यह लगभग 5 जिले सहित को जोड़ने वाली खलीलाबाद बहराइच रेलवे परियोजना की भी गति मिल रही है इस परियोजना से जुड़े सभी मार्गो का भेज टूट का कार्य जल्द ही प्रारंभ कर दिया जाएगा इसके लिए बांसी से बहराइच तक भौतिक सत्यापन के लिए कार्यदाई संस्था का चयन रेल मंत्रालय ने डेंटर के माध्यम से कर लिया है यह संस्था फेस टू में आने वाले एक सौ बयान में किलोमीटर लाइन का भौतिक सत्यापन करेगी यह कार्य इसी माह से प्रारंभ होने की संभावना है और इसी महा से प्रारंभ होने के बाद लगभग 6 माह में समाप्त होने की संभावना हो जाएगी भौतिक सत्यापन के बाद भूमि ग्रहण व सोशल इफेक्ट असेसमेंट का कार्य प्रारंभ करते होंगे।

रेल मंत्रालय की इस बात को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है।

रेल मंत्रालय किस बात को लेकर तैयारी शुरू कर दी गई है और 2023 के लास्ट तक यह परियोजना जमीन पर दिखाई देने की संभावना की जा रही है इससे पूर्व फेस वन में श्रद्धा नगर में 42 किलोमीटर लंबाई में रेल मंत्रालय कार्य प्रारंभ करने की तैयारी कर रहा है इसके लिए सिद्धार्थनगर प्रशासन को पत्र लिखकर सरकारी भूमि की मांग भी की जा रही है इस भूमि में साइड का कार्यालय के साथ-साथ निर्माण सामग्री को भी रखा जाएगा फेस टू के लिए चयनित संस्था को 6 माह में भौतिक सत्यापन का पूरा कार्य करना होगा इस दौरान संस्था को रेल लाइन पर पड़ने वाले नदी और नाला मंदिर सड़क आदि को उत्तर हाला की डीपीआर बनाना होगा।

इस भूमि के लिए अधिग्रहण करने के लिए सिद्धार्थनगर को चुना गया है।

इस परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण करने के लिए सिद्धार्थनगर को बयानों पर 40.47 करोड़ बात संतकबीरनगर को 105 करोड़ रुपए का अपटन भी कर दिया गया है यह भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू कर दिया गया है इस दौरान संस्था को रेल लाइन पर पढ़ने वाले नदी नाले मंदिर सड़क आदि को एक तरह से डीपीआर बनाना होगा और इस पर योजनाओं के लिए भूमि अधिग्रहण करने के लिए सिद्धार्थनगर को अपटन भ कर दिया गया है यह संस्था फेस टू में आने के बाद भी एक सौ बयान में किलोमीटर लाइन का भौतिक सत्यापन करेगी यह का देश महाशय प्रारंभ होने की संभावना है और 2023 के लास्ट तक यह कार्य पूरा करने की अनुमति दे दी गई है।

खलीलाबाद – खलीलाबाद बहराइच वाया श्रावस्ती रेलवे लाइन को जून 2018 में मंजूरी मिली थी उस समय परियोजना की मात्रा 20 करोड़ के आसपास सर्वे के लिए दिया गया था इस परियोजना के अंतर्गत 2021 में बजट का पठन किया गया था इसी के साथ साथ निर्णय लिया गया कि परियोजना को सिद्धार्थनगर जिले से प्रारंभ किया जाए और इसके लिए 52 किलोमीटर का लगभग पेज बनाया गया था जहां कार्य प्रारंभ होने के बाद पहले पज में बनाया गया था जहां काले प्रारंभ होने के बाद पहले फेज में सिद्धार्थ नगर से बांसी तक रेल पटरी बिछाने के लिए भूमि अधिग्रहण के साथ साथ ही 100 साल सोशल इंपैक्ट असेसमेंट यानी सामाजिक प्रभाव सकलन के लिए संस्था का चयन कर लिया गया यह जल्द ही रेल लाइन बनाने का कार्य शुरू होगा।

श्रावस्ती में रेल लाइन का कालिया जल्द ही प्रारंभ होने वाला है इसके लिए बजट का अपटन भी हो गया है इसकी जानकारी रेल मंत्री की तरह से भेजे गए एक पत्र में दी गई है और यह पूर्व संसद व अध्यक्ष जिला पंचायत खलीलाबाद बहराइच रेल परियोजना का भेज दो जल्द प्रारंभ होने वाला है सबसे पहले भौतिक सत्यापन का कार्य कराया जाना चाहिए इसके बाद भूमि अधिग्रहण का कार्य कराना होगा वह 2023 तक परियोजना का कार्य जमीन पर दिखने लगेगा।

ये भी पढ़े ……..

Shravasti News : वियतनाम से आए 33 सदस्य दल ने गंध गोटी पर किया पूजन

Dev Aastha; हिमाचल की आज भी इस चोटी पर चिपटा मारने पर आज भी निकल आता है पानी बड़े रोचक फुल जानकारी

सड़क हादसे में चाचा की मौत भतीजा घायल।

Sharvasti news लगातार बढ़ रहा है अतिक्रमण जिम्मेदार चुप।

Leave a comment